शीला सिंह के नेतृत्व में सिटी मजिस्ट्रेट के द्वारा भेजा गया महामहिम राश्ट्रपति को ज्ञापन


रायबरेली। समाजवादी पार्टी महिला सभा की प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती शीला सिंह के नेतृत्व में एक ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति को सम्बोधित सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से दिनांक 08 सितम्बर 2017 को रेयान इण्टरनेशनल स्कूल, गुरूग्राम, हरियाणा में हुई छात्र प्रद्युम्न की दर्दनाक गला रेतकर की गयी हत्या के सम्बन्ध में दी गयी। श्रीमती शीला सिंह ने सम्पूर्ण भारत के छात्र/छात्राओं की सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़ा हो गया है।  बच्चों की सुरक्षा राष्ट्रव्यापी चिन्ता का विषय है। अभिभावक अपनी गाढ़ी कमाई खर्च करके अपने पाल्य के उज्जवल भविष्य हेतु बड़े एवं नामचीन विद्यालयों में दाखिला करवाता है, किन्तु विद्यालय में बच्चों की सुरक्षा के कोई पुख्ता इन्तजाम नहीं रहते हैं।  प्रतिनिधि मण्डल ने राष्ट्रपति से मांग की कि प्रद्युमन हत्याकाण्ड की सी0बी0आई0 जाँच अविलम्ब कराई जाए ताकि दोषी को सजा एवं निर्दोषों का उत्पीड़न न हो सके।  जनपद रायबरेली स्थित समस्त विद्यालयों में सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए सी0सी0टी0वी0 कैमरा लगाये जाने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया जाए। विद्यालय के वाहन चालक एवं कन्डक्टर योग्यतानुसार एवं अनुभव के आधार पर ही रखे जाए। सभी प्रकार के विद्यालयों में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित होने पर सर्वप्रथम विद्यालय प्रबन्ध तन्त्र के विरूद्ध प्रशासनिक कार्यवाही किए जाने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया जाए। प्राइवेट विद्यालयों द्वारा शुल्क के नाम पर की जा रही अवैध वसूली चिन्ता का विषय है, जिसमें समय≤ पर विभिन्न संगठनों द्वारा आवाज उठाई गयी, किन्तु खेद है कि आज तक किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही भारत सरकार द्वारा भी नहीं की गयी, अभिभावक एक बार पुनः अपने को ठगा सा महसूस किये।  शिक्षा का बाजारीकरण तत्काल प्रभाव से रोका जाना अति आवश्यक है। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से अमर बहादुर सिंह, शिवमूर्ति सिंह राना, आशीष चैधरी, शशांक सिंह राठौर, अरूण सिंह मोनू, अखिलेश माही, राजन रस्तोगी, शिवम प्रकाश सोनकर, विनोद यादव, मो0 फहीम अहमद, नदीम कासिम, शिवम मिश्रा, सूरज सोनकर, धनन्जय सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।